औवेसी के बयान से आहत नदवी फूट-फूटकर रोए

95

लखनऊ (ईएमएस)। राम मंदिर के पक्ष में खड़े होने वाले मौलाना सलमान नदवी लखनऊ के नदवा कॉलेज में सोमवार को छात्रों के सामने तकरीर करते वक्त फूट-फूटकर रो कर बता रहे थे कि किन शर्तो पर वो राम मंदिर-मस्जिद विवाद के समझौते के लिए तैयार हुए हैं। उन्होंने कहा कि मुझे बदनाम किया जा रहा है,अल्लाह इन लोगों से निपटेगा। नदवी के मुताबिक ओवैसी और दूसरे लोगों के आरोपो से आहत होकर वे भावुक हुए। बता दें कि मौलाना सलमान नदवी ने पिछले दिनों अध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर से मुलाकात करके मस्जिद को दूसरी जगह शिफ्ट करने और विवादित जगह को राम मंदिर के लिए छोड़ने की वकालत की थी। इसके बाद से वो लगातार निशाने पर हैं।
राम मंदिर का पक्ष लेने के चलते ही रविवार को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से उन्हें निकाल दिया गया है। इतना ही नहीं सलमान नदवी पर सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मोदी के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया था। इसके अलावा ओवैसी ने सोमवार को सलमान नदवी के सामाजिक बहिष्कार की अपील भी की थी।
ओवैसी ने कहा कि एक बार मुस्लिम समुदाय ने अगर बाबरी मस्जिद की जमीन से अपना अधिकार छोड़ दिया तो ये लोग अन्य मस्जिदों पर भी दावा करना शुरु कर देंगे। पहले से जिस वो मंदिरों को ध्वस्त करके मस्जिद निर्मित की बात कहते रहे हैं। ओवैसी ने राम मंदिर का पक्ष लेने वाले मौलाना सलमान नदवी को निशाने पर लिया और कहा था, ‘तुम कौन हो,मोदी की धुन पर नाचते हो। अपने अप्रैल 2001 में फतवा पर हस्ताक्षर किए थे, जिसमें कहा गया है कि ‘शरीयत के अनुसार बाबरी मस्जिद पर कोई बातचीत संभव नहीं है। अब आप खुद पलट रहे हो। ओवैसी ने कहा था कि अगर आज भूमि छोड़ दी गई तो फिर 1000-2000 मस्जिदों को लक्षित करेंगे,जिनका दावा है कि वे मंदिर थे। ओवैसी ने कहा, उन्होंने ताजमहल पर एक मंदिर होने का दावा करके प्रचार शुरू कर दिया है। इस साजिश को हमें समझने की जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)