छात्र की हत्या के बाद इलाहाबाद में तनाव, विश्वविद्यालय में पुलिस तैनात

56

इलाहाबाद (ईएमएस)। इलाहाबाद में एलएलबी के छात्र दिलीप सरोज की पीट-पीटकर की गई हत्या के बाद शहर में कई जगह तनाव की स्थिति है। मंगलवार को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी कैंपस के आस-पास पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स को तैनात कर दिया गया है। बता दें कि इलाहाबाद में मामूली कहासुनी के चलते उपजे विवाद में दिलीप की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवक के परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए परिजनों को 20 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा की है। इस हत्याकांड को लेकर छात्रों के बीच भी भारी नाराजगी देखने को मिल रही है। नाराज छात्रों ने धरना प्रदर्शन के दौरान सोमवार को एक सिटी बस में आग लगा दी थी। बता दें कि
इलाहाबाद के कर्नलगंज इलाके के कटरा बाजार में एक रेस्टोरेंट में मामूली कहासुनी के बाद दबंगों ने नौ फरवरी की रात लाठी, डंडे से पीटकर 26 वर्षीय छात्र दिलीप सरोज की हत्या कर दी थी। वह कोमा में चला गया था और एक निजी अस्पताल में रविवार सुबह उसकी मौत हो गई। इलाहाबाद डिग्री कॉलेज से एलएलबी की पढ़ाई कर रहा दिलीप यूनिवर्सिटी रोड के पास एक रेस्टोरेंट में खाना खाने गया हुआ था। खाना खाने के बाद वह रेस्टोरेंट के बाहर सीढ़ियों पर बैठकर फोन पर बात कर रहा था। तभी तीन से चार लोग रेस्टोरेंट की सीढ़ियों से उतरे और दिलीप से हल्का सा टकरा गए। इसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी होने लगी। उसके बाद इन लोगों ने उसे सीढ़ियों से घसीट कर बुरी तरह पीटा। जब दिलीप मरणासन्न हो गया, तो बदमाश उसे रेस्टोरेंट की सीढ़ियों से घसीट कर सड़क पर ले आए और बेहोशी की हालत में भी उसके सिर और पैरों पर रॉड और पत्थरों से हमला करते रहे। बदमाश शराब के नशे में इस कदर चूर थे की वह यह भी नहीं समझ पा रहे थे कि छात्र बेहोश हो चुका है। रेस्टोरेंट के सीसीटीवी में यह घटना कैद हो गई थी। इस घटना का वीडियो रोंगटे खड़ा कर देने वाला है। उसमें देखा जा सकता है कि दबंग बारी-बारी से उसे पीटते रहे और कोई भी उसे बचाने आगे नहीं आया। घंटों तक दिलीप बेहोशी की हालत में सड़क पर पड़ा रहा। दबंगों के चले जाने के बाद कुछ लोगो ने घायल दिलीप को एक हॉस्पिटल में भर्ती कराया, पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)