JIT ने नवाज शरीफ के 15 और मामलों में जांच की सिफारिश की

0
68

इस्लामाबाद:पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके परिजनों की संपत्तियों की जांच करने वाले संयुक्त जांच दल ने शरीफ के 15 अन्य मामलों की जांच की सिफारिश की है। यह जांच दल पनामा पेपर लीक मामले विपक्षी दलों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने गठित किया था। इसने दस जुलाई को अपनी अंतिम रिपोर्ट दे दी है।
जांच दल ने अपनी रिपोर्ट में प्रधानमंत्री शरीफ और उनके परिजनों पर गंभीर टिप्पणियां की हैं। मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक जांच दल ने नवाज शरीफ के खिलाफ पूर्व में दर्ज हुए 15 मामलों की जांच फिर से करवाए जाने की भी सिफारिश की है।
इनमें से तीन मामले सन 1994 और 2011 में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के सत्ताकाल में और बाकी के 12 मामले अक्टूबर 1999 में नवाज शरीफ सरकार के तख्तापलट के बाद में दर्ज हुए थे। यह तख्तापलट तत्कालीन सेना प्रमुख परवेज मुशर्रफ ने किया था। बाद में सभी 15 मामलों जांच पूरी करे बगैर ही खत्म कर दिया गया। इनमें एक मामला लंदन स्थित चार फ्लैटों की जांच का भी था।
सुप्रीम कोर्ट ने संयुक्त जांच दल गठित करते हुए 20 अप्रैल को इन चार फ्लैट के लिए चुकाए गए धन की जांच के निर्देश दिये थे। संयुक्त जांच दल ने प्रधानमंत्री शरीफ, उनके मुख्यमंत्री भाई और तीन संतानों की संपत्तियों की जांच की है। सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई अब 17 जुलाई (सोमवार) को होगी।

------------------------------------------------------------------------------------------------------

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें सुरभि न्यूज़ एप्प

यह भी देखें :   सेना सुरक्षा प्रदान करे तो पेशी के लिए तैयार: मुशर्रफ
loading...