डबल मर्डर: सामने आया ब्लू वेल ऐंगल

0
84

नोएडा:ग्रेटर नोएडा के डबल मर्डर केस में ब्लू-वेल गेम का ऐंगल भी सामने आ रहा है। परिवार वालों का कहना है कि मुख्य संदिग्ध ब्लू वेल खेला करता था और उन्हें डर है कि वह सूइसाइड कर सकता है। बता दें कि मंगलवार को गौड़ सिटी -2 के 11वें ऐवेन्यू में मां–बेटी की हत्या का मामला सामने आया था। इसमें संदिग्ध मृतक महिला का लापता बेटा है। हत्या के बाद से 16 साल का बेटा लापता है।
पुलिस को शक है कि लापता बेटे ने नियोजित ढंग से मां और बहन की हत्या की और उसके बाद वह रात को ही वहां से चला गया। लड़के के दादा कहना है कि अगर लापता बेटे ने हत्याओं को अन्जाम दिया है तो ब्लू वेल ऑनलाइन गेम बनाने वाले दोषी हैं और उन्हें सजा मिलनी चाहिए क्योंकि मोबाइल पर ब्लू वेल गेम खेलने की वजह से उसके पिता ने उससे मोबाइल फोन छीना था। इसके बाद वह नाराज रहता था।
तीन फेसबुक अकाउंट
बेटा अकसर मोबाइल में खोया रहता था। उसके फेसबुक पर तीन अकाउंट हैं। सोसायटी में ब्लू वेल गेम को लेकर भी चर्चा रही, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी। पुलिस का कहना है कि बेटा चोरी-छुपे मोबाइल का यूज करता था। उसकी बहन मणि ने यह बात पिता को बता दी थी। इस पर पिता ने बेटा को डांटा था और मोबाइल छीन लिया था। लिहाजा पुलिस मान रही है कि इसी वजह से वह बहन से भी नफरत करता होगा।
जहरीली बिरयानी खिलाकर कीं हत्याएं!
हत्या में जहरीली बिरयानी के ऐंगल से भी जांच हो रही है। मौके से पुलिस को बिरयानी और सेवई मिली हैं। माना जा रहा है कि मां-बेटी को पहले जहरीली बिरयानी खिलाई गई और उसके बाद उनके चेहरे पर क्रिकेट बैट और कैंची से हमला किया गया। ऐसा इसलिए किया गया ताकि वह विरोध न कर सकें। पुलिस ने इनके सैंपल लिए हैं। सूत्रों के अनुसार पुलिस को बेटे के बारे में सुराग लग चुका है। हो सकता है कि शुक्रवार को इसके बारे में खुलासा किया जाए।
अंजलि और उनकी बेटी की मौत से सोसायटी में हर कोई हैरान है। क्राइम सीन पर सबसे पहले पहुंचे पुलिसकर्मियों की मानें तो बाहरी व्यक्ति इस वारदात को अंजाम दे ही नहीं सकता है। दो कमरों में किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं है। इनसे सटे तीसरे कमरे में मां-बेटी की लाशें रजाई से ढंकी मिलीं। सामान भी बिखरा हुआ नहीं पाया गया। हत्यारे ने बेडरूम में जाकर हत्या की है। मृतकों को उठने तक का मौका नहीं मिल सका। पुलिस को मौके पर दो बर्तनों में खाने का सामान मिला है। इनमें एक में सेवई है, जो घर पर बनाई गई थी। दूसरे बर्तन में बिरयानी थी। माना जा रहा है कि बिरयानी को बेटा लेकर आया था।