जम्मू-कश्मीर: माजिद के बाद एक और युवक ने छोड़ा आतंक का रास्ता

0
44

श्रीनगर। माता-पिता की अपील के बाद आतंक का रास्ता छोड़ एक और युवक सोमवार को दक्षिण कश्मीर स्थित अपने घर लौट आया। युवक एक आतंकी समूह में शामिल हो गया था। तीन दिन पहले भी फुटबॉल खिलाड़ी से आतंकवादी बने माजिद खान ने भी अपनी मां की अपील के बाद आतंक का रास्ता छोड़ वापर घर लौट आया था। जम्मू एंड कश्मीर पुलिस के प्रवक्ता ने कहा, ‘अभिभावकों की अपील के बाद एक और युवक दक्षिण कश्मीर स्थित अपने घर लौट आया।’ हालांकि उन्होंने सुरक्षा कारणों से उस युवक के बारे में विस्तृत जानकारी देने से इनकार कर दिया।
उन्होंने कहा, ‘युवक की पहचान का खुलासा तभी किया जाएगा जब उसकी जान पर कोई खतरा न हो।’ इस बीच एक अन्य वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें शोपियां जिले के कापरिन इलाके के एक युवक का परिवार अपने बेटे आशिक हुसैन भट्ट से घर वापसी की अपील करता नजर आ रहा है। हालांकि यह अभी स्पष्ट नहीं है कि सोमवार को घर वापस लौटा वह युवक भट्ट है या नहीं।
तीन दिन पहले ही माजिद ने किया था आत्मसमर्पण
दक्षिण कश्मीर में दो सप्ताह पहले लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हुआ एक प्रसिद्ध फुटबॉलर माजिद ने गुरुवार को ही सेना के समक्ष आत्मसमर्पण किया था। सोशल मीडिया पर घर लौट आने की मां की गुहार संबंधी वीडियो जारी होने के ठीक अगले ही दिन माजिद ने समर्पण कर दिया। गत 14 नवंबर को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में माजिद के फंसे होने की खबर सुनकर उसके पिता इरशाद अहमद खान को दिल का दौरा भी पड़ा था।
आतंकियों से हिंसा का रास्ता छोड़ने की अपील
चिनार कोर के कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल जेएस संधू ने रविवार को स्थानीय आतंकवादियों से पाकिस्तान की ओर से छद्म युद्ध में भाग लेकर हिंसा का रास्ता अपनाने के बजाय इसे छोड़ने की अपील की थी। साथ ही उन सभी से समाज की मुख्यधारा में शामिल होने की बात कही थी।