सरकार स्पष्ट करे कि क्या दही हांडी एक खेलकूद है: कोर्ट

0
64

मुंबई:बॉम्बे हाई कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार से कहा है कि वह यह स्पष्ट करे कि दही हांडी एक साहसिक खेलकूद है। न्यायाधीश आर.एम सावंत और न्यायाधीश साधना जाधव ने यह स्पष्टता उस याचिका की सुनवाई के दौरान मांगी है, जिसमें दही हांडी के आयोजन पर सवाल उठाए गए हैं।

गौरतलब है कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में भी है, क्योंकि महाराष्ट्र सरकार ने हाई कोर्ट के उस आदेश को चुनौती दी है जिसमें दही हांडी पर बनने वाली मानव श्रृंखला की ऊंचाई अधिकतम 20 फीट रखने को कहा गया था। यह आदेश हाई कोर्ट ने 11 अगस्त, 2014 को दिया था।

सरकार द्वारा दही हांडी को साहसिक खेलकूद करार देने के 11 अगस्त, 2015 को जारी सरकारी प्रस्ताव का जिक्र करते हुए कोर्ट ने यह स्पष्टता मांगी है। कोर्ट ने यह भी पूछा है कि क्या सरकार ने और भी कोई सरकारी प्रस्ताव जारी किया है। ‘क्या दही हांडी एक साहसिक खेलकूद है’? इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में 1 अगस्त को सुनवाई है, इसलिए हाई कोर्ट ने यह मामला सुनवाई के लिए 4 अगस्त को रखा है।

------------------------------------------------------------------------------------------------------

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें सुरभि न्यूज़ एप्प

यह भी देखें :   HC ने पूछा, शिवाजी स्मारक बनाना जरूरी क्यों?
loading...