पाक को फायरिंग का मिलेगा करारा जवाबः DGMO

0
64

नई दिल्लीः पाकिस्तान द्वारा सीमा पर लगातार किए जा रहे सीजफायर उल्लंघन पर कड़ा स्टैंड लेते हुए भारत ने अपने पड़ोसी देश से दो टूक कहा है कि जम्मू-कश्मीर से लगती सीमा पर किसी भी प्रकार की फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। भारतीय DGMO ले. जनरल ए. के. भट्ट ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष से फोन पर बातचीत में साफ कर दिया कि भारतीय सेना LoC पर शांति को लेकर प्रतिबद्ध है।
भट्ट ने पाकिस्तान को दो टूक कहा कि भारत को किसी भी प्रकार के सीजफायर उल्लंघन का करारा जवाब देने का अधिकार है। गौरतलब है कि सोमवार को पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया। शहीद मुद्दसर अहमद जम्मू-कश्मीर के त्राल सेक्टर के रहने वाले थे। वह राजौरी सेक्टर में ड्यूटी पर तैनात थे। साथ ही, पाकिस्तान द्वारा की जा रही गोलीबारी के कारण पुंछ सेक्टर में एक बच्ची की भी मौत हो गई है।
इस बीच पाकिस्तानी सेना ने एकबार फिर उड़ी सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन किया है। पड़ोसी सेना ने भारतीय सेना के कई पोस्टों को निशाना बनाकर फायरिंग की है। भारतीय जवान पाकिस्तानी फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। उड़ी फायरिंग में सेना का एक जवान घायल हुआ है।
उधर, सेना के प्रवक्ता ले. कर्नल अमन आनंद ने कहा DGMO की बातचीत का जानकारी देते हुए कहा, ‘भारत सीमा पर शांति स्थापित करने के लिए भी प्रतिबद्ध है और इसके लिए ईमानदार कोशिश करता है।’ उन्होंने कहा, ‘बातचीत की शुरुआत पाकिस्तानी कमांडर मेजर जनरल साहिर शमशाद मिर्जा ने की। पाकिस्तानी कमांडर ने अपनी सेना के जवान की शहादत का मुद्दा उठाया।’
दोनों कमांडरों के बीच करीब 10 मिनट तक चली इस बातचीत में पाकिस्तानी कमांडर ने सीजफायर उल्लंघन का मुद्दा उठाया। आनंद ने कहा, ‘इसके बाद DGMO भट्ट ने पाकिस्तान द्वारा तोड़े गए सभी सीजफायर उल्लंघनों की जानकारी मिर्जा को दी। भट्ट ने कहा कि भारतीय सेना सीमापार फायरिंग का केवल उचित जवाब देती है।’
भट्ट ने कहा कि भारतीय सेना तभी फायरिंग करती है जब हथियारबंद घुसपैठिए सीमा पार से घुसपैठ करने की कोशिश करते हैं। भारतीय सेना के प्रवक्ता ने कहा कि भट्ट ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष से यह भी जोर देकर साफ किया कि पड़ोसी देश की मदद से ही अभी भी घुसपैठ जारी है। भट्ट ने कहा कि घुसपैठ के कारण शांति और आंतरिक सुरक्षा को खतरा पहुंचता है।
आनंद ने कहा, ‘हमारे पास इस बात के सबूत हैं कि पाकिस्तानी सेना के समर्थन से हमारी सेना को लगातार निशाना बनाया जा रहा है।’ सेना के अनुसार जून में पाकिस्तानी BAT के हमले के बाद सीमा पर सीजफायर उल्लंघन के 23 मामले सामने आ चुके हैं।

यह भी देखें :   उत्‍सव के नाम पर उपद्रव नहीं होना चाहिए : योगी

------------------------------------------------------------------------------------------------------

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें सुरभि न्यूज़ एप्प

loading...