सुषमा स्वराज से कैसी मदद मांग रहीं मल्लिका शेरावत

31

मुंबई:मल्लिका शेरावत ने एक एनजीओ ‘फ्री अ गर्ल’ की को-फाउंडर को भारतीय वीजा देने में मदद के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से आग्रह किया है। एनजीओ की को-फाउंडर एवलिन होल्सकेन का वीजा आवेदन बार-बार रद्द होने के कारण मल्लिका ने यह अनुरोध किया है।
मल्लिका ‘फ्री अ गर्ल’ इंडिया के साथ मिलकर काम रही हैं। यह संस्था भारत में मानव तस्करी और बच्चों के व्यावसायिक यौन शोषण के खिलाफ लड़ रही है। मल्लिका ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, ‘मैम सुषमा स्वराज, डच एनजीओ फ्री अ गर्ल की सह संस्थापक का भारत के लिए वीजा बार-बार रद्द हो रहा है। यह एनजीओ बाल और महिला तस्करी के खिलाफ बहुत अच्छा काम कर रहा है। कृपया मदद कीजिए।’
यह एनजीओ बाल वेश्यावृत्ति की समस्या और बाल वेश्यावृत्ति के अपराधियों को दंड के बारे में जागरूकता पैदा करने पर केंद्रित है। साथ ही यह संस्था इस अपराध से लड़ने के लिए स्थानीय समुदाय का समर्थन भी तैयार कर रही है। मल्लिका ‘फ्री अ गर्ल’ द्वारा चलाए जा रहे एक अनूठे कार्यक्रम स्कूल फॉर जस्टिस की ब्रैंड ऐंबैसडर हैं। इस कार्यक्रम के तहत वेश्यालय से बचाई गई लड़कियों को शिक्षा, प्रशिक्षण और उन्हें वकील बनाने में समर्थन मुहैया कराया जाता है ताकि वह न्यायतंत्र में काम कर सके। उन्होंने कहा, ‘मैं इस मुद्दे को दृढ़ता से समझती हूं और मुझे लगता है मदद के लिए सरकार से समर्थन चाहिए होगा। मेरा मानना है कि भारतीय महिलाओं और बच्चों के फायदे के लिए अथक कार्य कर रही सह संस्थापक को वीजा की इजाजत दिया जाना चाहिए।’
मल्लिका ने बयान में कहा, ‘सुषमा स्वराज जी ने ऐसे मुद्दों को सुलझाया है और मुझे आशा है कि उनकी तरफ से सकरात्मक जवाब मिलेगा।’