फिर छलका अमर का दर्द, अखिलेश-रामगोपाल को पानी पी-पी कर कोसा

0
77

नई दिल्ली: सपा के कभी अपने तो कभी पराए होते रहते वरिष्ठ नेता अमर सिंह ने एक न्यूज चैनल से बात की और अपना दर्द बयां किया। उन्होंने साफ जाहिर कर दिया है कि अब सपा से उनका कोई नाता नहीं है। अमर सिंह ने कहा कि सपा ने उन्हें दो-दो बार दूलत्ती मारी है। एक बार मुलायम सिंह यादव ने तो एक बार उनके पुत्र अखिलेश यादव ने।

अमर सिंह ने उनपर लग रहे आरोपों को उन्हें बदनाम करने की कोशिश बताया और कहा कि न तो कभी एक कौड़ी का ठेका लिया न पट्टा। कोई लेनदेन नहीं की। न ही स्थानांतरण उद्योग चलाया। जो आरोप लगा रहा है, मैं उन्हें चुनौती देता हूं वो साबित कर के दिखा दें।

अमर ने खुदपर लग रहे आरोपों का जिक्र करते हुए सपा उपाध्यक्ष रामगोपाल का नाम लिए बिना उनपर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि एक पार्टी के उपाध्यक्ष को ऐसे बेबुनियाद आरोप लगाना शोभा नहीं देता।

इसके साथ ही अमर सिंह राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन करते दिखे। उन्होंने सभी से रामनाथ कोविंद का समर्थन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि त्रेतायुग में जैसे राम और शबरी, द्वापर में कृष्ण और सुदामा वैसे ही कलियुग में मोदी जी और कोविंद जी हैं।

उन्होंने सोनिया गांधी को भी नहीं बख्शा। राष्ट्रपति चुनाव में मीरा कुमार उम्मीदवार बनाने पर उन्होंने कहा कि जब उनके पास आंकड़े नहीं होते तो तभी वे दलित को क्यों बलि का बकरा बनाती हैं। पहले शेखावत जी के खिलाफ शिंदे को बनाया था और अब मीरा कुमार जी। अंत में उन्होंने सपा पर ही अपनी बात खत्म की। उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि सपा में पड़ी फूट खत्म हो और पिता-पुत्र-चाचा के बीच की दूरी कम हो।

यह भी देखें :   राष्ट्रपति चुनाव सांप्रदायिक विचारधारा के खिलाफ लड़ाई है: सोनिया

------------------------------------------------------------------------------------------------------

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें सुरभि न्यूज़ एप्प

loading...