SIP में निवेश करने का नया तरीका NACH पर सवाल-जवाब

0
69

मुंबईःएजेंसी। सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) में निवेश के लिए इस्तेमाल होने वाले इलेक्ट्रॉनिक क्लीयरिंग सर्विस (ECS) मैंडेट की जगह मार्च से नैशनल ऑटोमेटेड क्लीयरिंग हाउस (NACH) ले लेगा। यह क्लीयरिंग का नया सिस्टम है। नैशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया ने NACH को लागू किया है। सभी नए म्यूचुअल फंड एसआईपी को NACH के जरिए रजिस्टर कराना होगा।

1. म्यूचुअल फंड्स के मामले में NACHOTM (वन टाइम मैंडेट) क्या है?
NACH वन टाइम रजिस्ट्रेशन प्रोसेस है। यह निवेशक को म्यूचुअल फंड्स में एकमुश्त एसआईपी इन्वेस्टमेंट करने की सहूलियत देता है। इस मैंडेट को रजिस्टर कर आप संबंधित बैंक (जो आपके पोर्टफोलियो में रजिस्टर्ड हो) को रोज एक निश्चित अधिकतम रकम (उदाहरण के लिए प्रतिदिन 1 लाख रुपये तक) फंड हाउस की किसी म्यूचुअल फंड स्कीम में निवेश के लिए डेबिट करने का अधिकार देंगे। आप यह मैंडेट या तो एक तय अवधि के लिए (मसलन एक साल) या लगातार तब तक के लिए दे सकते हैं, जब तक आप इसे कैंसल न करें। एक मैंडेट फंड हाउस में एक ही फोलियो के लिए काम करता है। अगर अलग-अलग फंड हाउसेज में आपके एसआईपी हों तो आपको अलग-अलग NACH फॉर्म भरने होंगे।

2. NACH का फायदा क्या है?
एसआईपी के लिए रजिस्ट्रेशन टाइम अभी 30 दिनों का है, जिसे यह घटाकर 10 दिनों पर ला देगा। इस मैंडेट के रजिस्टर हो जाने पर निवेशक ऑफलाइन इन्वेस्टमेंट बगैर चेक काटे या पेमेंट गेटवे के जरिए ऑनलाइन मनी ट्रांसफर से कर सकेगा। इन्वेस्टर पेमेंट के इस तरीके से म्यूचुअल फंड में एकमुश्त निवेश कर सकेंगे। साथ ही, वे फंड हाउस के उसी फोलियो में एसआईपी भी कर सकेंगे।

यह भी देखें :   जेपी एसोसिएट्स ने भिलाई प्लांट में हिस्सा बेचा

3. NACH OTM के लिए कैसे कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन?

हर फोलियो के लिए एक बार ही रजिस्ट्रेशन करना होता है। आपको OTM फॉर्म भरकर जमा करना होता है। इस पर सिग्नेचर ठीक वैसे ही होने चाहिए, जैसे आपके बैंक रिकॉर्ड्स में हों क्योंकि यह फॉर्म आपकी बैंक ब्रांच में भेजा जाएगा। इसके साथ एक चेक कॉपी या कैंसल्ड चेक लगाएं, जिससे फंड हाउस को आपके बैंक अकाउंट को वैलिडेट करने में आसानी होगी।

4. OTM फॉर्म में क्या जानकारी देनी होती है?
बैंक अकाउंट नंबर, बैंक का नाम और ब्रांच, कॉन्टैक्ट डिटेल्स जैसे आम ब्योरे देने के साथ इसमें एक नए कॉलम में एकमुश्त रकम या डेली लिमिट का जिक्र करना होगा।

5. मेरे मौजूदा एसआईपी का क्या होगा?
जब तक के लिए आपने ईसीएस मैंडेट दिया हो, तब तक मौजूदा एसआईपी चलते रहेंगे। मौजूदा ईसीएस मैंडेट खत्म होने पर अगर आप एसआईपी रिन्यू करना चाहें तो आपको इसके लिए NACH फॉर्म भरना होगा।

Source: shilpkar

------------------------------------------------------------------------------------------------------

हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें सुरभि न्यूज़ एप्प

loading...